हम ना रहें भी तो हमारी यादें वफा करेंगी तुम से,

ये ना समजना की तुम्हें चाहा था बस दो दिन के लिए !!

*******

माजरा क्या हे ये भी बता दो !
आजकल ख्वाबों मे छा जाते हो…

*******

तेरी चाहत तो मुक़द्दर है, मिले न मिले;

राहत ज़रूर मिल जाती है, तुझे अपना सोच कर…

*******

माना कि तुम्हारा नाम सुनतेही नशा चढ जाता हैँ,
लेकिन हम भी वो हे जिनका नाम सुनतेही अच्छे अच्छोँ का नशा उतर जाता हैँ…

*******

सालो साल बातचीत से उतना सुकून नही मिलता,
जितना सिर्फ एक बार गले लग कर मिलता है।

*******

मुझे हर बात पर यूँ लड़ना अच्छा नही लगता,
अच्छा लगता है लड़ने के बाद प्यार जताना…

*******

सही कहते हैं दुनियावाले,
बहुत ग़रीब हो गया हूँ मैं…

एक फकत…
तू ही तो दौलत थी मेरी |….

*******

दर्द की बारिशों में हम अकेले ही थे,
जब बरसी ख़ुशियाँ …
न जाने भीड़ कहा से आई.

*******

बांसुरी से सीख ले एक नया सबक . . . . .
ऐ जिन्दगी-
लाख सीने में जख्म हो फिर भी गुनगुनाती है..!!

*******

हमने ईक माला की तरह तुमको अपने आप मे पिरोया है,
याद रखना तुटे अगर हम तो बिखर तुम भी जाओगे।!

*******

बादशाह तो मैं कहीं का भी बन सकता हूँ पर,

तेरे दिल की नगरी में हुकूमत करने का मज़ा ही कुछ और है….

*******

हाथों की लकीरों मैं तुम हो ना हो ….

जिदंगी भर दिल में जरूर रहोगे…

*******

जिन्दगी भर कोई साथ नहीं देता यह जान लिया हमने,
लोग तो तब याद करते हैं जुब वह खुद अकेले हों..

*******

खुद को भूल न जाऊं भटक न जाऊं कहीं…
एक टुकड़ा आइना जेब में रखता हूँ अक्सर…

*******

ज़ुल्म इतना ना कर की लोग कहेँ तुझे
दूश्मन मेरा,
हमने ज़माने को तुझे अपनी “जान”‘
बता रख्खा हे..

*******

तेरी चुप्पी ग़र…तेरी कोई
मज़बूरी है….
तो रहने दे…
इश्क़ कौन सा ज़रूरी है….

*******

मैंने कब कहा कीमत समझो तुम मेरी,

हमें बिकना ही होता तो यूँ तन्हा ना होते।।

*******

तेरी ख्वाहिश कर ली तो कौन सा गुनाह किया,
लोग तो इबादत में सारी कायनात मांगते खुदा से।

*******

टूट जायेंगी तेरी ज़िद की आदत उस वक़्त…
जब मिलेगी ख़बर तूजको की याद करने वाला अब याद बन गया है!!!

*******

निंद से क्या शिकवा जो आती नही रात भर,
कसुर तो उन सपनों का है जो सोने नही देते ।..

*******

भरोसा बहुत बङी पूँजी है यूँ ही नहीं बाँटी जाती…

यह…

खुद पर रखो तो ताकत और दूसरे पे रखो तो कमजोरी बन जाता है…

*******

धडकनों को
कुछ तो काबू में कर ए दिल..
.
अभी तो पलकें झुकाई है,
मुस्कुराना
अभी बाकी है उनका…!!!

*******

इतनी दूरियां ना बढ़ाओ थोड़ा सा याद ही कर लिया करो,
कहीं ऐसा ना हो कि तुम-बिन जीने की आदतसी हो जाए…

*******

मुझे आदत नहीं यूँ हर किसी पे मर मिटने की…! .
पर तुझे देख कर दिल ने सोचने तक की मोहलतना दी…!!

*******

नजर और नसीब के मिलने का इत्तफाक कुछ ऐसा है कि,
नजर को पसंद हमेशा वही आता है ,जो नसीब मे नही होता…!!

*******

इस कदर भूखा हूँ साहब,
कभी कभी धोखा भी खा लेता हूँ!

*******

दर्द भी वो दर्द जो दवा बन जाये !
मुश्किलें बढ़ें तो आसां बन जाये !!

जख्म पा कर सिर झुका देता हूँ !
जाने कौन पत्थर ख़ुदा बन जाये !!

*******

ज़रा सा बात करने का सलीक़ा सीख लो तुम भी…
इधर तुम होठ हिलाते हो उधर दिल टूट जाते है…

*******

अपने खुदा से जब भी अपना मुक़द्दर मांगेंगे ,
और भले ही कुछ न मांगें, तुम्हें उम्र-भर मांगेंगे ….

*******

काश के होता ये दिल पत्थर का यारो
खुद घायल हो जाते चोट पहुँचाने वाले..

*******

तुझे पाना.. तुझे खोना…
तेरी ही याद मेँ रोना….

ये अगर इश्क है..
तो हम तनहा ही अच्छेँ हैँ.!!

*******

अरे बददुआये … ये किसी ओर के लिए रख,

मोहब्बत का मरीज हूँ, खुद ब खुद मर जाऊँगा…

*******

इतनी कामीयाबि हाँसिल
करूंगा की तु जे माफी मांगने के लिये
भी लाईन मेँ खडा होना पडेगा…

*******

तुम जब भी मिलो तो नजरे उठा कर मिला करो जान-ए-जाना
मुजे पसंद है तुम्हारी आँखों में अपना चेहरा देखना…..!!

*******

किसी फकीर की झोली में जब मैंने एक सिक्का डाला ,
तब ये जाना कि इस मंहगाई के दौर में दुआएँ आज भी कितनी सस्ती है !!

*******

लाख करो गुज़ारिशें लाखों दो हवाले,
बदल ही जाते हैं आखिर बदल जाने वाले..!!!

*******

ख़ूबियों पर तो आपकी कईयों का दिल मचला होगा,
पर मज़ा प्यार का तब है,
जब कमियों को देख,कोई हमसफ़र बना ले आपको …!!

*******

हज़ार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की,

बताओ कभी कुछ मिला है इसमें तुम्हारे सिवा…

*******

दिल तो रोज सजता हे , एक नादान दुलहन की तरह ,
और गम रोज चले आते हे , बाराती बनकर….

*******

हाले दिल किस से केहतें ददॅ भी उसीने दिया जो वजह थी मुस्कुराने की.!!

*******

बहुत खूबसूरत वहम है मेरा….कहीं तो कोई है….
जो सिर्फ मेरा है…!!

*******

Advertisements